IPL शुरू होते ही सक्रिय हुए सटोरिए, पुलिस प्रशासन अंजान

धमतरी: आईपीएल (IPL) शुरू होते ही धमतरी जिले में इन दिनों सट्टा का बाजार भी गर्म हो गया है. शहर में ही रोजाना लाखों का सट्टा लगाया जा रहा है. लेकिन इसके बाद भी जिला पुलिस हवा में हाथ पैर मार रही है. शहर में सटोरिए बेखौफ खिलाड़ियों और टीमों पर दांव लगवा रहे हैं. लेकिन पुलिस सट्टा खिलाने वालों तक नहीं पहुंच पा रही है.
शहर में वाट्सएप और टीवी के जरिए चौक-चौराहों में खुलेआम सटोरिए सक्रिय हैं. कुछ सट्टा खिलाने वालों के तार राजधानी के साथ ही नागपुर तक जुड़े हुए हैं. अकेले धमतरी शहर में ही रोजाना लाखों रुपए का दांव लग रहा है. इसके आलावा नगरी, कुरुद और आसपास के कस्बों में भी सट्टे का कारोबार जोरों पर है. हैरत की बात है कि रोज चल रहे इस गोरखधंधे की खबर पुलिस को नहीं है.शहर के इन इलाकों में चल रहा सट्टाबताया जा रहा है कि जब मैच शुरू होने को रहता है, तब सट्टा बाजार में रौनक दिखाई देने लगती है. शुरू-शुरू में दो टीमों की जीत हार पर बाजी लगती है और आगे चलकर हर ओवर और रन के साथ-साथ, बैट्समैन और बाॅलर पर भी दांव लगाया जाता है. इसके लिए देर रात तक टीवी में मैच देखकर कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल वाट्सएप के जरिए सट्टे का कारोबार चलाया जा रहा है. शहर के रामबाग, बनियापारा, लालबगीचा, कोष्टापारा, जालमपुर, कचहरी चौक सहित कई वार्डों में सट्टे का करोबार फल-फूल रहा है.ग्रामीणों ने पुलिस पर लगाया मारपीट का आरोप, 6 साल की मासूम समेत 5 घायलहाईटेक तरीके से खेला जा रहा सट्टाशहर में अब हाईटेक तरीके से ऑनलाइन सट्टा खेला जा रहा है. सूत्रों की मानें तो पहले मैच में पैसा लगाने के लिए कॉल करके बोली लगाई जाती थी. लेकिन अब ऐसा नहीं किया जा रहा है. सट्टा खेलने वालों को एक एक आईडी दे दी जाती है और फिर मैचों पर बोली लगती है. अगर उस आईडी में दिए गए पैसे हार जाते हैं, तो वह फिर से खेलने वालों को कॉल करके पैसा जमा करवा लिया जाता है. जीती हुई रकम की बात करें तो पेमेंट एक दिन बाद दिया जाता है.जिले में जोरों पर सट्टे का करोबारजिले में धमतरी शहर, नगरी, मगरलोड, कुरूद और अन्य इलाकों में जोरों पर सट्टेबाजी चल रही है. पुलिस के आला अफसर इस मामले को लेकर बहुत सख्त होने का दावा करते हैं. जबकि शहरवासियों की नजरों में हकीकत कुछ और ही है.